Home / MUTUAL FUND / म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कैसे करें

म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कैसे करें

अभी पिछले दिनों में मैंने म्यूच्यूअल फण्ड पर 02 -03 basic लेख लिखे है ,जिसको अगर आपने नहीं पढ़ा है तो उसका लिंक में नीचे दे देता हूँ ।

म्यूच्यूअल फण्ड क्या है ,म्यूच्यूअल फण्ड से फायदा और नुकसान

इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड क्या है इसके प्रकार और फायदे

Debit mutual fund क्या होता है इसके फायदे और नुकसान

अपने लिए बेस्ट म्यूच्यूअल फण्ड कैसे चुने

Growth या Dividend Option – कौन सा Mutual Funds आपके लिए बढ़िया रहेगा

उपरोक्त लेख पड़ने के बाद आप जान जायेगे की म्यूच्यूअल फण्ड क्या है म्यूच्यूअल फण्ड के क्या फायदा और नुकसान है और आप अपने लिए बेहतरीन म्यूच्यूअल फण्ड कैसे चुने ।

जब आपने अपने लिए फण्ड चुन ही लिया है ,तब बारी आती है म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश की ।

आज का हमारा अंक यही है कि म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कैसे करे ।आज हम उन सभी तरीकों के बारे में जानेंगे जिससे हम आसानी से म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कर सकते है।

आप किसी भी म्यूचुअल फंड में या तो ऑनलाइन (एएमसी द्वारा प्रदान की गई ऑनलाइन निवेश सुविधा के माध्यम से) या ऑफलाइन (किसी भी वित्तीय मध्यस्थ या सीधे म्यूचुअल फंड कंपनी की किसी भी शाखा के माध्यम से) निवेश कर सकते हैं। वित्तीय मध्यस्थ बैंक, ब्रोकरेज हाउस या व्यक्तिगत वित्तीय सलाहकार (आईएफए) या तीसरे पक्ष के वितरक हो सकते हैं।

Required Documents

म्यूच्यूअल फण्ड में आप चाहे ऑनलाइन निवेश करें या ऑफ लाइन दोनों ही स्थिति में आपको नीचे लिखे हुए डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ेगी ।

-Photograph
-PAN card
-Name and Address proof
-Bank Account Details and
-KYC Compliance

म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कैसे करे

1) Investing Online from Mutual Funds Website (If you are Compliance with KYC)

म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करने में सबसे प्रारंभिक और महत्वपूर्ण काम होता है ,अपने लिए सही म्यूच्यूअल फण्ड का चुनाव करना ।अगर आपने यह काम कर लिया तो आपके लिए निवेश का सबसे बढ़िया
विकल्प है संबंधित म्यूच्यूअल फण्ड की कंपनी की ऑनलाइन साइट पर जाकर सीधे ही निवेश करना ।इस प्रकार के निवेश में चूँकि आप सीधे ही संबंधित म्यूच्यूअल फण्ड की AMC से जुड़ जाते हैं इसलिए आपका सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि आपको किसी भी प्रकार का कमीशन नहीं देना पड़ेगा । इसके लिए आपको निम्न प्रक्रिया करनी होगी ।
1 – सबसे पहले संबधित म्यूच्यूअल फण्ड की साइट पर जाये और invest now पर क्लिक करे ।अब साइट पहले आपका रेजिस्ट्रेशन करेगा ।इसके लिए आपसे आपकी व्यक्तिगत जानकारी जैसे कि Name, Email, Phone Number, DOB, Address, PAN number, etc.मांगी जाएगी ।आप संबंधित जानकारी देकर रेजिस्ट्रेशन प्रकिया पूरा करें।

2 – रेजिस्ट्रेशन के बाद संबंधित साइट आपको F-Pin जेनरेट करेगा और इसे आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और ई मेल पर भेजा जाएगा
3 – अब आप F-Pin की मदद से यूजर id और पासवर्ड बनाये ।

4 – अब अपने द्वारा बनाये गए यूजर id और पासवर्ड से साइट में login करे और फिर अपनी पसंद के म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करें ।

2. Investing Online from Brokerage House/Financial Portal’s Website

ऐसे कई ऑनलाइन प्लेटफार्म हैं जहां से आप आसानी से निवेश शुरू कर सकते हैं। ऑनलाइन पोर्टल में भी निवेश की प्रक्रिया बहुत सरल होती है। यहाँ घ्यान दे ऑनलाइन पोर्टल आपसे कुछ भी अतिरिक्त शुल्क नहीं लेते हैं, बल्कि वे अपना कमीशन म्यूचुअल फंड कंपनियों से प्राप्त करते है ।लेकिन म्यूचुअल फंड कंपनी इस कॉमिशन के खर्च को आपके NAV में Adjust करते है ।ऑनलाइन पोर्टल द्वारा निवेश करने पर आपको कुछ फायदे भी मिलते है ।जैसे कि ऑनलाइन पोर्टल द्वारा निवेश पर सलाह देने के लिए
विशेषज्ञ नियुक्त होते है ,आप उनकी सेवा ले सकते है ।दूसरा अगर आपने अलग अलग म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी में निवेश कर रखा है ,तो सभी को एक ही जगह ट्रैक कर सकते है ।तीसरा आप एक कॉमन एकाउंट बनाकर एक ही जगह से अलग अलग म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी में निवेश कर सकते है ।
कुछ प्रमुख ब्रोकरेज हाउस के नाम और लिंक नीचे है

FundsIndia

ICICI Direct

Sharekhan

HDFC Securities

India Bull

3) Banks-

बैंकों के पास आमतौर पर आपके खाते का डिटेल होता है अतः बैंककर्मी अक्सर आपको म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए उकसाते हैं। यहाँ धयान दे कि ऐसा बैंककर्मी अपने व्यक्तिगत कमीशन कमाने के लिए करता है उसे आपकी goal से कोई मतलब नहीं होता ।दूसरा अगर आपने किसी बैंककर्मी से प्रभावित होकर म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कर दिया और कुछ दिनों के बाद संबंधित कर्मी की पोस्टिंग कहीं और हो गई ,तो भी आपको उसका मार्गदर्शन नहीं मिल पायेगा अतः जहाँ तक हो सके बैंक द्वारा म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश से बचें ।

4) MF Utility–

MF Utility वास्तव में निवेशकों, म्यूचुअल फंड कंपनियों और सेवा प्रदाताओं सभी को एक जगह इकठा करने वाली ऑनलाइन मंच है। यह सेबी की मंजूरी के तहत AMFI (Association of Mutual Funds in India ) द्वारा की गई एक पहल है। इस मंच में एक छत के नीचे आप सभी म्यूचुअल फंड लेनदेन कर सकते हैं।

यह सभी म्यूचुअल फंड कंपनियों के स्वामित्व में है और MF Utilities India Pvt Ltd (MFUI ) द्वारा संचालित होती है।

5.Investing Offline (Direct Approach – If you are not Compliance with KYC)

सभी म्यूचुअल फंड AMC आपको सीधे निवेश करने की सुविधा देता है। इस विकल्प का सबसे बड़ा लाभ यह है कि आप डायरेक्ट प्लान को चुन सकते हैं जिसमें एक्सपेंस रेश्यो कम होता है और एक्सपेंस रेश्यो का छोटा सा अंतर ही लंबे समय के निवेश के अंत मे एक बहुत बड़ी रकम का अंतर हो जाता है ।इसकी प्रक्रिया नीचे दी गई है ।

1 – संबंधित म्यूच्यूअल फण्ड की साइट पर जाए और एप्लीकेशन फॉर्म और KYC फॉर्म डाउनलोड करे ।

2 –म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करने के लिए KYC जरूरी है ,इसे सिर्फ एक बार ही करना पड़ता है ।जब आपने एक बार KYC करा लिया ,फिर आप किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कर सकते हो ।
4 – अब आप सारे ऊपर वर्णित डॉक्यूमेंट ,एप्लीकेशन फॉर्म ,kyc फॉर्म और प्रथम क़िस्त या निवेश की राशि का चेक / डिमांड ड्राफ्ट को पोस्ट से संबंधित कंपनी को भेज दे ।

5 – अब म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी पहले आपका kyc कराएगी ,फिर आपके निवेश को स्वीकार कर आपको एक यूनिक फोलियो नंबर दे देगी साथ ही आपके द्वारा निवेशित राशि के बराबर यूनिट्स अलॉट कर देगी ,फिर इस सभी की सूचना आपको डाक के द्वारा दे दी जाएगी ।
अब आप अपने निवेश को संबंधित साइट पर जाकर ऑनलाइन ट्रैक कर सकते है

6.Investing offline (through Distributor/Brokers)

यह लंबे समय से भारत में निवेश का पारंपरिक तरीका है। इस विकल्प में एजेंट आपके दरवाजे पर आता है और आपके आवश्यकता के अनुसार आपके लिए सही फण्ड चुनने में आपकी मदद करता है फिर निवेश की सारी औपचारिकता जैसे कि एप्लीकेशन भरना और उसे संबंधित कंपनी में जमा करना इत्यादि पूरा करता है बदले में एजेंट को संबंधित कंपनी कमीशन देती है लेकिन ध्यान दे कमीशन की ये राशि भी म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी आपके ही NAV. में ही एडजस्ट करती है । लेकिन इस प्रक्रिया में आपको यह चाहिए कि आपकी म्यूच्यूअल फण्ड योजना Regular होगी,ना कि डायरेक्ट । इसलिए आपके फंड का एक्सपेंस रेश्यो ~ 0.5-0.75% (फंड के आधार पर) से अधिक होगा, क्योंकि म्यूचुअल फंड
अपने management fees. से आपके एजेंट को कमीशन देता है ।

जैसा कि ऊपर चर्चा किया गया है म्यूचुअल फंड में निवेश करने के कई तरीके हैं। अब यह आप पर निर्भर करता है कि आप अपना पैसा म्यूच्यूअल फण्ड में किस तरह से निवेश करना चाहते है । यदि आप पूरी तरह से नए हैं और म्यूचुअल फंड के बारे में कुछ भी नहीं जानते हैं, तो आपके लिए ऑनलाइन ब्रोकरेज फर्मों जैसे फंड्स इंडिया या आईसीआईसीआई डायरेक्ट इत्यादि उचित हो सकता है क्योंकि ये आपके पोर्टफोलियो को अपनी विशेषज्ञता के साथ बढ़िया से मैनेज करने में आपकी मदद करेगे ।

यदि आप जानते है अपने लिए सर्वोत्तम म्यूचुअल फंड कैसे चुनें, तो आप सीधे म्यूचुअल फंड AMC के माध्यम से निवेश करके आगे बढ़ें । इस विकल्प में, आपको डायरेक्ट प्लान मिलेगा जो लंबे समय तक आपके लिए बहुत बचत कर सकता है।

मुझे उम्मीद है कि आप अच्छी तरह से समझ गए होंगे कि म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें।
कोई शिकायत या सुझाव हो तो कमेंट करें ।
धन्यवाद ।

Check Also

How to delete /deactivate facebook account in hindi

How to delete /deactivate facebook account in hindi

नमस्कार दोस्तों आज हम  बात करेंगे दुनिआ की  सबसे पॉपुलर साइट FACEBOOK  के बारे मे। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: